Yashoda Ka Nandlala Lyrics

Yashoda Ka Nandlala Lyrics in Hindi

ज़ु ज़ु ज़ू ज़ु ज़ू ज़ु ज़ु ज़ु ज़ु ज़ू
यशोदा का नंदलाला बृज का उजाला है
मेरे लाल से तो सारा जग झिलमिलाए
ज़ु ज़ु ज़ू ज़ु ज़ू ज़ु ज़ु ज़ु ज़ु ज़ू
रात ठंडी ठंडी हवा, गा के सुलाए
भोर गुलाबी पलकें, खोल के जगाए

दो अँखियों में तुझे बसाके
जाने कब से जागूँ
तू माँगे तो चाँद भी दे दूँ
तुझ से कुछ ना माँगूँ
खोल तू आँखें देख यहाँ हूँ
और नहीं कोई मैं तेरी माँ हूँ, ज़ु ज़ु ज़ू …
तेरे लिये कैसे कैसे सपने सजाए, मेरे लाल से …

जाने कब ये आती जाती
सांस कहाँ थम जाए
देख मुरझाता फूल टूट के
डाली से कब गिर जाए
तू जो मुझे माँ माँ … माँ, रहके बुलाए
रूह को मेरी चैन आ जाए, ज़ु ज़ु ज़ू …
सो जाए ऐसे फिर ना जागूँ जगाए, मेरे लाल से …

========

zu zu zuu zu zuu zu zu zu zu zuu
yashodaa kaa na.ndalaalaa bR^ij kaa ujaalaa hai
mere laal se to saaraa jag jhilamilaae
zu zu zuu zu zuu zu zu zu zu zuu
raat Tha.nDii Tha.nDii havaa, gaa ke sulaae
bhor gulaabii palake.n, khol ke jagaae

do a.Nkhiyo.n me.n tujhe basaake
jaane kab se jaaguu.N
tuu maa.Nge to chaa.Nd bhii de duu.N
tujh se kuchh naa maa.Nguu.N
khol tuu aa.Nkhe.n dekh yahaa.N huu.N
aur nahii.n koI mai.n terii maa.N huu.N, zu zu zuu …
tere liye kaise kaise sapane sajaae, mere laal se …

jaane kab ye aatii jaatii
saa.ns kahaa.N tham jaae
dekh murajhaataa phuul TuuT ke
Daalii se kab gir jaae
tuu jo mujhe maa.N maa.N … maa.N, rahake bulaae
ruuh ko merii chain aa jaae, zu zu zuu …
so jaae aise phir naa jaaguu.N jagaae, mere laal se …

Leave a comment

Your email address will not be published.