Ugi He Dinanath Lyrics In Hindi

Ugi He Dinanath Lyrics In Hindi

कलपेली भींजल तिवईया हो
उगी हे दीनानाथ
कलपेली भींजल तिवईया हो
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ

कटलो से कटे ना समईया हो
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ

तीन दिन भुखिये के
आसरा लगाके
काल्हु से निहारी राह
घटिया पे आके

तीन दिन भुखिये के
आसरा लगाके
काल्हु से निहारी राह
घटिया पे आके

बड़ी देर भइले गोसईया हो
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ

ललकी ललईया से
होइ ना इसारा
केहू नाहीं जागी
सूतल रही जग सारा

ललकी ललईया से
होइ ना इसारा
केहू नाहीं जागी
सूतल रही जग सारा

जोहे राह फूलवा पतईया हो
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ

मनवा में सोची सोची
तोहे गोहरावे
देहिया अचेत होठ
खुल नाहीं पावे

मनवा में सोची सोची
तोहे गोहरावे
देहिया अचेत होठ
खुल नाहीं पावे

होइहा सूरजमल सहईया हो
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ

कलपेली भींजल तिवईया हो
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ
उगी हे दीनानाथ

Leave a comment

Your email address will not be published.