एक टुकड़ा धूप Ek Tukda Dhoop Lyrics in Hindi– Thappad

एक टुकड़ा धूप Ek Tukda Dhoop – Thappad Ek Tukda Dhoop Lyrics in Hindi टूट के हम दोनो में जो बचा वो कम सा है एक टुकड़ा धूप का अंदर अंदर नम सा है एक धागे में है उलझे यूँ के बुनते बुनते खुल गए हम थे लिखे दीवार पे बारिश हुई और धूल गए… Continue reading एक टुकड़ा धूप Ek Tukda Dhoop Lyrics in Hindi– Thappad