Durga Saptashti Chapter 6 – श्री दुर्गा सप्तशती छठा अध्याय

Durga Saptashti Chapter 6 – श्री दुर्गा सप्तशती छठा अध्याय श्री दुर्गा सप्तशती- छठा अध्याय धूम्रलोचन वध महर्षि मेधा ने कहा- देवी की बात सुनकर दूत क्रोध में भरा हुआ वहाँ से असुरेन्द्र के पास पहुँचा और सारा वृतान्त उसे कह सुनाया। दूत की बात सुन असुरेन्द्र के क्रोध का पारावर न रहा और उसने… Continue reading Durga Saptashti Chapter 6 – श्री दुर्गा सप्तशती छठा अध्याय