Chaudhvin Ka Chand Lyrics

Chaudhvin Ka Chand Lyrics in Hindi चौदहवीं का चाँद हो, या आफ़ताब हो जो भी हो तुम खुदा कि क़सम, लाजवाब हो ज़ुल्फ़ें हैं जैसे काँधे पे बादल झुके हुए आँखें हैं जैसे मय के पयाले भरे हुए मस्ती है जिसमे प्यार की तुम, वो शराब हो चौदहवीं का … चेहरा है जैसे झील मे… Continue reading Chaudhvin Ka Chand Lyrics