Aarti Kunj Bihari Ki Lyrics In Hindi

Aarti Kunj Bihari Ki Lyrics In Hindi आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की। गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला श्रवण में कुण्डल झलकाला, नंद के आनंद नंदलाला गगन सम अंग कांति काली, राधिका चमक रही आली लतन में ठाढ़े बनमाली भ्रमर सी अलक, कस्तूरी तिलक, चंद्र सी झलक ललित छवि श्यामा प्यारी… Continue reading Aarti Kunj Bihari Ki Lyrics In Hindi