Suhana Safar Lyrics सुहाना सफ़र और ये मौसम हंसीं

Suhana Safar Lyrics सुहाना सफ़र और ये मौसम हंसीं सुहाना सफ़र और ये मौसम हंसीं (२) हमें डर है हम खो न जाएं कहीं सुहाना सफ़र … (ये कौन हँसता है फूलों में छूप कर बहार बेचैन है किसकी धुन पर ) – (२) कहीं गुमगुम, कहीं रुमझुम, के जैसे नाचे ज़मीं सुहाना सफ़र …… Continue reading Suhana Safar Lyrics सुहाना सफ़र और ये मौसम हंसीं