Meri Duniya Hai Tujhme Kahin Lyrics मेरी दुनिया है तुझ में कहीं

Meri Duniya Hai Tujhme Kahin Lyrics मेरी दुनिया है तुझ में कहीं

मेरी दुनिया है तुझ में कहीं
तेरे बिन मैं क्या, कुछ भी नहीं
मेरी जान में तेरी जान है, ओ साथी मेरे

पलकों में तेरे रूप का सपना सजा दिया
पहली नजर में ही तुझे, अपना बना लिया
है यही आरजू, हर घड़ी बैठी रहो मेरे सामने

ऐसा लगा मेरे सनम, हम जो यहाँ मिले
सहरा में जैसे शबनमी चाहत के गुल खिले
ये जमीं, आसमान, कह रहें, हम तो कभी न होंगे जुदा

=========

Meri duniya hai tujh men kahin
Tere bin main kya, kuchh bhi nahin
Meri jaan men teri jaan hai, o saathi mere

Palakon men tere rup ka sapana saja diya
Pahali najar men hi tujhe, apana bana liya
Hai yahi araju, har ghadi baithhi raho mere saamane

Aisa laga mere sanam, ham jo yahaan mile
Sahara men jaise shabanami chaahat ke gul khile
Ye jamin, asamaan, kah rahen, ham to kabhi n honge juda

Leave a comment

Your email address will not be published.