क़ुर्बान Qurbaan lyrics in Hindi Lyrics

क़ुर्बान Qurbaan lyrics in Hindi Lyrics

कुर्बान हुआ तेरी तिश्नगी में यूँ
कुर्बान हुआ तेरी आशिकी में यूँ

बेखुदी में बेकली में बेकसी में हुआ
तुझको हर दुआ दी, और दगा भी
और फना हुआ

कुर्बान हुआआआ…
कुर्बान हुआ हा हाँ..
अदा पे वफ़ा पे जफ़ा पे
कुर्बान हुआ
कुर्बान हुआ हा हाँ.. ओ..

रूबरू तू मगर
तनहा है ये जहाँ हो..
जल उठे मेरी कुफ़्र से
साँसों का ये समां
ओ..

क्या हुआ
पल में जाने खो गया क्यों
तू मिला और जुदा ईमान हुआ यूँ

बेखुदी में बेकली में
बेकसी में हुआ
तुझको हर दुआ दी, और दगा हुआ
और फना हुआ

कुर्बान हुआआआ…
कुर्बान हुआ हा हाँ..
अदा पे वफ़ा पे जफ़ा पे
कुर्बान हुआ
कुर्बान हुआ हा हाँ.. ओ..

मरने का सबब मांगता रहा दर बदर
मिटने को तो दिल पल में राज़ी हुआ
पूरी हुई हर आरज़ू हर दास्ताँ मेरी
के तुम शुरू हुए जहाँ मैं ख़तम हुआ

कुर्बान हुआआआ…
कुर्बान हुआ हा हाँ..
अदा पे वफ़ा पे जफ़ा पे
कुर्बान हुआ
कुर्बान हुआ हा हाँ.. ओ..

Leave a comment

Your email address will not be published.