मेहरम Mehram Lyrics In Hindi- Jersey

मेहरम Mehram Lyrics In Hindi- Jersey

मेहरम तू ही है मेरा
ले सुन ले मेरी दास्ताँ
रंजिशें धुआं धुआं सी ये
आ रेह ले तू भी यहां

नूर ना रुख ते साह वी ना मुक्खदे
के अग्ग बन गया है लहू मेरा
तेरी रज़ा है दर्द मज़ा है
ले हूण बन गया बादशाह तेरा

आजा लेके जाऊं तुझे
सांसें घुट’ती जहां
ख्वाहिशें जो टूटी सी थी
बिखरा उनका जहां

दफन हो दोनों यहां
फिर भी हो तनहा
करे जो भी सजदा तेरा
कहना तू ही मेरी है मेहरम

जाना था यादों का एक आशियाना
तेरा ख्वाबों में मुझको सताना

हम्म..

जाना था यादों का एक आशियाना
तेरा ख्वाबों में मुझको सताना

वो जो तेरा प्यार था
मैं ही तेरा यार था
ऐसी भी है क्या वजह
अब तक हूँ खफा

वो जो तेरा प्यार था
मैं ही तेरा यार था
ऐसी भी है क्या वजह
मैं हूँ खफा

आजा लेके जाऊं तुझे
सांसें घुट’ती जहां
ख्वाहिशें जो टूटी सी थी
बिखरा उनका जहां

दफन हो दोनों यहां
फिर भी हो तनहा
करे जो भी सजदा तेरा
कहना तू ही मेरी है मेहरम

अगर है लाया तोड़ने बाई
रीत चली आ रही है
लम्हे सारे कैद मैं कर लूं
ऐसी घड़ी आ रही है

होना है जो देखि जाए
अब करम ही फरमाये
होना है जो देखि जाए
अब करम ही फरमाये

Leave a comment

Your email address will not be published.