कन्हैया ने बुलाया है चलो बुलावा आया है लिरिक्स

कन्हैया ने बुलाया है चलो बुलावा आया है लिरिक्स

चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया है,
चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया हैं,
हो.. वृंदावन की कुंज गलिन का,
सपना मुझे क्या खूब आया है,
चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया हैं।।

सारे जग में एक ठिकाना,
कृष्णा के दीवानो का,
रस्ता देखें बांके बिहारी,
अपने भक्तों के आने का,
ब्रज रज माथे लगाकर नाचुँ,
ऐसा ख्याल दिल में आया है,
चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया हैं।।

राधे राधे कहते जाओ,
परिक्रमा लगाते जाओ,
जमुना मैय्या को नमन कर,
ब्रज की महिमा गाते जाओ,
जो ब्रज धाम इक बार है आया,
बार बार वो यहां आया है,
चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया हैं।।

वृंदावन के दर्शन को,
लोग तरसते रह जाते है,
हंसते हंसते आते है,
रोते रोते जाते है,
हंसते हंसते आते है,
रोते रोते जाते है,
हरि नाम धुन में जो रम गया है,
असली कृपा से वो नहाया है,
चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया हैं।।

चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया है,
चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया हैं,
हो.. वृंदावन की कुंज गलिन का,
सपना मुझे क्या खूब आया है,
चलो बुलावा आया है,
कन्हैया ने बुलाया हैं।।

Leave a comment

Your email address will not be published.