आई अब की साल दिवाली AAYEE AB KI SAAL DIWALI Lyrics In Hindi

आई अब की साल दिवाली AAYEE AB KI SAAL DIWALI Lyrics In Hindi

आई अब की साल दिवाली
मुंह पर अपने खून मले
चारों तरफ है घोर अंधेरा
घर में कैसे दीप जले
आई अब की साल दिवाली

बालक तरसे फुलझड़ियों को
दीपों को दीवारें
माँ की गोदी सूनी सूनी
आँगन कैसे संवारे
राह में उनकी जाओ उजालों
बन में जिनकी शाम ढले
आई अब की साल दिवाली

जिनके दम से जगमग जगमग करती थी ये रातें
चोरी चोरी हो जाती थी मन से मन की बातें
छोड़ चले वो घर में अमावस
ज्योति लेकर साथ चले
आई अब की साल दिवाली

टप-टप टप-टप टपके आंसू
छलकी खाली थाली
जाने क्या क्या समझाती है आँखों की ये लाली
शोर मचा है आग लगी है
कटते हैं पर्वत पे गले
आई अब की साल दिवाली

Leave a comment

Your email address will not be published.